Telegram icon WhatsApp icon

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल पर कैसे देखें खसरा और खतौनी की नकल?

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में भूमि रिकॉर्ड को डिजिटल बनाने और उन्हें एक वेब पोर्टल के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने के लिए एक इंटरनेट साइट भूलेख यूपी लॉन्च की। उत्तर प्रदेश के आम निवासी अपने मोबाइल फोन पर घर पर आराम करते हुए अपने भूमि अभिलेखों को ऑनलाइन एक्सेस करने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं। भूमि अभिलेख, खसरा, खतौनी आदि की जानकारी ऑनलाइन देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट भूलेख लॉन्च की। इससे कोई भी व्यक्ति बी-1 भूमि रिकॉर्ड, खसरा, खतौनी (Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024) आदि के बारे में जानकारी ले सकता है। 

इसके अतिरिक्त, यदि आप चाहें, तो आप भू नक्शा, उत्तर प्रदेश के बारे में और अधिक जान सकते हैं। आप सीएससी केंद्रों पर जाए बिना भूमि रिकॉर्ड, खसरा, खतौनी और अन्य विषयों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए घर पर रहते हुए अपने सेल फोन का उपयोग कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल (Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024) लॉन्च राज्य के निवासियों के लिए बहुत फायदेमंद रहा है। 

Read More: UP Bhu Naksha Online Download 2024: उत्तर प्रदेश भू नक्शा ऑनलाइन करें चेक व डाउनलोड, जानें डिटेल

CUET Admit Card 2024 release date: CUET परीक्षा के लिए शुरू हो चुकी है आवेदन प्रक्रिया, जानें कब तक जारी होगा एडमिट कार्ड 

NDA 1 Admit Card 2024: 21 अप्रैल से शुरू होगी NDA 1 की परीक्षा, कब तक जारी होगा एडमिट कार्ड?

WhatsApp Group Rules In Hindi 2024: व्हाट्सएप ग्रुप के इन नियमों से आप भी होंगे अंजान, जानें पूरी लिस्ट

यूपी भूलेख पोर्टल पर ये भूमि अभिलेख हैं उपलब्ध

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: राज्य में सभी भूमि रिकॉर्ड संचालन को हाल ही में यूपी सरकार द्वारा कम्प्यूटरीकृत किया गया है। इस पोर्टल पर अब खतौनी एवं आसपास के क्षेत्रों की जानकारी स्थाई रूप से सुरक्षित रहती है। खसरा और खाता संख्या के अनुसार सभी पंजीकृत भूमि जोत का विवरण, भूमि स्वामित्व की जानकारी के साथ, भूलेख लखनऊ, उत्तर प्रदेश रिकॉर्ड डेटाबेस में शामिल है। उनका विवरण नीचे दिया गया है:

  • खाता धारक का नाम
  • खाताधारकों की संख्या
  • भूमि की सीमा
  • खसरा संख्या और खाता संख्या का विवरण
  • संपत्ति से संबंधित लेनदेन का इतिहास, जैसे बंधक और तीसरे पक्ष के मुकदमे आदि
  • खाली भूमि, आदि
Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024

भूलेख पोर्टल की विशेषताएँ 

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: इस पोर्टल के उपयोग से भ्रष्टाचार में कमी आई है और सरकारी कामकाज अधिक पारदर्शी हुए हैं, जिससे नागरिक अपने घर बैठे ही खसरा खतौनी (Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024) ऑनलाइन देख सकते हैं।

  • कोई भी उपयोगकर्ता कुछ ही क्लिक के साथ भूलेख यूपी साइट पर आवश्यक जानकारी जल्दी और आसानी से पा सकता है। 
  • यह पोर्टल भूमि से संबंधित प्रत्येक सेवा के लिए सीधे लिंक प्रदान करता है। 
  • इसके अलावा, आप यहां राजस्व बोर्ड, रजिस्ट्री कार्यालय और आपदा प्रबंधन जैसे अतिरिक्त कार्यों तक सीधी पहुंच पा सकते हैं।
  • इसके अलावा, भूलेख यूपी वेबसाइट पर प्रत्येक सामग्री को वर्गीकृत किया गया है। 
  • यह ग्राहकों को उनकी प्राथमिकताओं के अनुसार सेवा का उपयोग करने में सक्षम बनाता है।
  • इसके अतिरिक्त, सरकार ने भू लेख यूपी पोर्टल को उपयोगकर्ता के अनुकूल बना दिया है, और यह सभी उपकरणों पर त्रुटिपूर्ण रूप से कार्य करता है।
  • भूलेख यूपी पोर्टल (up bhulekh gov in) शिकायत पंजीकरण, स्टांप और रजिस्टर, ई-जिला और बहुत कुछ सहित सभी ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करता है, जो उपयोगकर्ता के काम को और सरल बनाता है।
Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024

यूपी भूलेख पोर्टल के क्या हैं लाभ?

  • भूलेख यूपी पोर्टल उत्तर प्रदेश निवासियों को भूमि संबंधी सभी जानकारी प्रदान करने की सुविधा प्रदान करता है। 
  • इस पोर्टल का उपयोग करके नागरिक अपने घर बैठे ही भूमि संबंधी सभी सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं।
  • भूमि संबंधी किसी भी तथ्य को देखने के लिए नागरिकों को पोर्टल पर केवल खसरा या गाटा नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके अलावा, सभी भूमि संबंधी भ्रष्टाचार आदि समाप्त हो गए हैं क्योंकि सभी भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध हैं।
  • अब आप इस साइट की सहायता से घर बैठे ही भूमि खाते की जानकारी जोड़ या संशोधित कर सकते हैं।
Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: पोर्टल पर ऐसे देखें खतौनी की नकल 

Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024: upbhlekh.gov पर भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश संस्करण देखना एक बहुत ही सरल प्रक्रिया है। पोर्टल पर कुछ क्लिक के साथ, आप तुरंत अपने स्मार्टफोन पर खतौनी (Bhulekh UP Khasra Khatauni 2024) की एक प्रति देख सकते हैं। यह करने के लिए, इन उपायों का पालन करें:

  • सबसे पहले, यूपी भूलेख साइट पर जाएं, जो अब पिछले पते भूलेख यूपी निक इन यूपी के बजाय upbhlekh.gov.in पर उपलब्ध है।
  • यूपी भूलेख वेबपेज पर, खतौनी (अधिकारों का रिकॉर्ड) की प्रतिलिपि देखें का चयन करें।
  • भूमि अभिलेखों के सत्यापन की प्रतिलिपि देखने के लिए आपको सबसे पहले स्क्रीन पर प्रदर्शित कैप्चा दर्ज करना होगा। 
  • फिर गांव, तहसील और जिले का नाम चुनना होगा।
  • एक बार यह हो जाने के बाद, आप मालिक का नाम, खाता संख्या, या खसरा/गाटा संख्या (खाताधारक) दर्ज करके जारी रख सकते हैं। 
  • खाता संख्या चुनें और “उद्धरण देखें” (खाता विवरण देखें) विकल्प चुनें
  • इसके बाद आप अपने सामने चयनित गांव की गाटा संख्या वाली खतौनी देख सकेंगे।
Bharatnewsjournal Home Page

Leave a Comment